Being An Observer Of The Mind & Thoughts (English)

5357 views | 15 Jun 2021

Being an observer of the mind & watching the different thoughts & emotions appear and disappear in it, is one of key practices when it comes to contemplation upon the vedanta wisdom. But what should one do after observing the negative traits of the mind?

show more

Related Videos

Sadhana, gyana & Self realisation (with English subtitles)

आत्मज्ञान और ब्रह्मज्ञान में अंतर | Difference between Self Realisation & Brahman Realisation

Association of Consciousness with Mind & Body

अपनी हर इच्छा के प्रति रहें सजग l Apni har ichha ke prati rahein sajag

शरीर, मन और बुद्धि का साक्षी कौन ? Who Observes this Body, Mind & Intellect?

How to deal with insults? (English)

पूर्ण गुरु ही कराते हैं उस अविनाशी की प्राप्ति | संत सम्मेलन, उज्जैन

सरलता से करें आत्मज्ञान!

काटो इस मन के जाल को l kaato iss mann ke jaal ko

How to realise that I am the Self?(English)

Mann Di Ardaas

कौन जानता है? | Kaun janta hai?

कैसे सरल बनाते हैं गुरु वेदांत ज्ञान को ?

'मैं द्रष्टा हूँ' , जानिए कैसे | 'Main drashta hun', janiye kaise

बिंदु में सिंधु | Bindu Mein Sindhu (with English subtitles)

कैसे होता है ब्रह्माण्ड का पसारा?

चेतन और चेतन का आभास | True self & Reflection of True self

Hridaya Samvaada : 10 October 2021

मैं हूँ! परन्तु कौन हूँ मैं?

Is Self-Realisation Easy or Difficult? (English)

क्या आप हैं अज्ञान से दुखी ? | Kya aap hain agyan se dukhi? | Anandmurti Gurumaa

4 Obstacles on the Path of Self-realisation (with English subtitles)

शिवोहम शिवोहम | Bhajan | Nirvana Shatakam

ब्रह्म-बोध के लिए क्या आवश्यक? What is essential for the realisation of Brahman?

Experience of Bliss (with English subtitles)

द्रष्टा कौन ?

क्या बुद्धि है आत्मा?

द्रष्टा और साक्षी में अंतर | Difference between Drashta & Sakshi

कैसे करें परमात्मा की खोज?

वेदांत में ईश्वर की परिभाषा

Latest Videos

Related Videos